in

WordPress Blog kaise Banaye पहले वर्डप्रेस में मौजूद सभी तकनीकी विशेषताओं के बारे में जान लें।

WordPress Blog Kaise Banaye? वेबसाइट बनाने से पहले उसमें मौजूद सभी तकनीकी विशेषताओं के बारे में जान लें। WordPress Website Create करने से आप एक पूरी नई भाषा सीख सकते हैं। लेकिन अगर आपको लगता है कि यह बहुत मुश्किल है। मैं नहीं कर पाऊंगा, तो डरे नहीं। हमने विभिन्न वर्डप्रेस शब्दों की एक सूची बनाई है जो आपको सरल परिभाषाओं में समझने में मदद करेंगे।

WordPress Blog kaise Banaye?

WordPress Blog kaise Banaye पहले वर्डप्रेस में मौजूद सभी तकनीकी Jaise ki- Theme, Plugin, Widget, Dashboard, Post, Page, Category, Tag, Featured Image, Permalink, Meta tags, Comments, Navigation bar, Sidebar, Header, Footer, Sitemap, Akismet, Ajax, Apache, .htaccess, FTP, MySQL, SEO, Backlink. विशेषताओं के बारे में जान लें।

WordPress Theme

एक वर्डप्रेस थीम एक डिज़ाइन फ़ाइल है, जो Internal Coding सामग्री को प्रभावित किए बिना वर्डप्रेस साइट के रूप और स्वरूप को Customize करती है। WordPress Theme निशुल्क और सशुल्क दोनों तरह से उपलब्ध हैं।

WordPress Plugin

Plugin आपके वेबसाइट Function को बढ़ता है, जब आप WordPress से वेबसाइट बनाते हैं तो आपको प्लगइन की आवश्यकता होती ही है. जैसे- SEO Plugin, Contact Form plugin, Subscribe plugin, Content Importer, Anti Spam Jetpack plugin etc. की अनिवार्य रूप से जरूरत होती है.

WordPress Widget

इसे हम बिलकुल आसान सी भाषा में समझे तो यह एक Window की तरह काम करता है, जैसे हम अपने घर में लगाते हैं, ठीक वैसे ही यहां हम Widget का उपयोग Website में करते है, उदहारण – Popular Post Widget, Comment Widget, Random post Widget, Recent Post Widget, Social media Widget, Html/Javascript Widget etc..

यह भी पढ़े- Submitting Site to Search Engine Google Bing Yahoo Yandex.

WordPress Dashboard

जब आप वर्डप्रेस को अपने वेबसाइट में इनस्टॉल करते है, इसके बाद Admin-panel में लॉगिन करते है. तो आपको WordPress का Dashboard दिखाई देता है. जहां से बैक-एंड का कार्य कर सकते है, जिससे वर्डप्रेस की कई Features तक तुरंत पहुँच सकते है।

WordPress Post

Post वर्डप्रेस का मुख्य हिस्सा है जिसमे Post में कंटेंट manufacture करते हैं.

WordPress Page

पेज पर लिखा गया कंटेंट आपके वेबसाइट पर अपडेट नहीं होता, जबकि पोस्ट publish करने पर यह वेबसाइट पर दिखने लगता है. पेज पर लिखा गया कंटेंट आप अपने वेबसाइट पर उसका लिंक जोड़ते है. जैसे Menu में Contact us, About Us लिखा हुआ दिखाई देता है.

WordPress Category

Category एक पोस्ट विषय का समूह हैं। जैसे अगर आपने SEO नाम की एक Category बनाया है, तो SEO से सम्बंधित जितने भी इनफार्मेशन है, उसे SEO Category में जोड़ा जाता है. Category का उपयोग Online Shopping साइट में भी होता है. जैसे- Electronic, Fashion etc

WordPress Tag

टैग का इस्तेमाल ब्लॉग पोस्ट के लिए किया जाता है.पोस्ट में टैग्स का इस्तेमाल एक से अधिक कर सकते हैं. जैसे अगर मेरा पोस्ट WordPress विषय के ऊपर है तो टैग्स इस तरह से दे सकते है- Create WordPress Website, WordPress theme, WordPress, hosting, WordPress Plugin, WordPress Shopping Site, WordPress SEO, WordPress blog etc.. टैग्स के माध्यम से विजिटर आपके पोस्ट को सर्च करते हैं.

वर्डप्रेस थीम में अलग-अलग पोस्ट को एक सुसंगत रूप बनाने के लिए Image का उपयोग किया जाता हैं। उदहारण- Youtube Thumbnail का ले सकते है. Featured image विसोटोर को आकर्षित करता है. जिससे विजिटर Image को देखकर इनफार्मेशन का अंदाजा लगा लेता है.

आपकी WordPress Permalink Settings परिभाषित करती है कि आपके व्यक्तिगत पोस्ट और पेज URL किस तरह दिखेंगे। वर्डप्रेस के भीतर कस्टम पर्मलिंक संरचनाओं को भी परिभाषित किया जा सकता है:
WordPress offers you the ability to create a custom URL structure for your permalinks and archives. Custom URL structures can improve the aesthetics, usability, and forward-compatibility of your links.

WordPress Website

वर्डप्रेस आपको अपने पर्मलिंक और अभिलेखागार के लिए एक कस्टम यूआरएल संरचना बनाने की क्षमता प्रदान करता है। कस्टम URL संरचना आपके लिंक के सौंदर्यशास्त्र, प्रयोज्यता और आगे-संगतता को बेहतर बना सकती है।

इसे भी पढ़े

    Metadata

    मेटाडेटा एक अनुपूरक डेटा है जो Search Engine को अतिरिक्त जानकारी देने के लिए आपकी साइट पर जोड़ा जाता है, यह विजिटर के लिए नहीं होती है और वेबसाइट पर भी दिखाई नहीं देती है. Meta tags को वेबसाइट के इंटरनल coding में जोड़ा जाता है, जिसमे meta descriptions, meta keywords, search engine verification meta tags, etc..

    Comments

    WordPress में यह सुविधा है की Visitors आपके पोस्ट और पेज पर टिप्पणी कर सकते हैं, हालांकि, यदि Disable है, तो यह सुविधा बंद हो सकती है। Comment Enable or Disable किया जा सकता है.

    Navigation bar

    नेविगेशन बार मेनू से उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट के विभिन्न वर्गों और पृष्ठों तक पहुंचने के लिए क्लिक करते हैं।

    Sidebar

    कई वर्डप्रेस वेबसाइट एक साइडबार का उपयोग करती हैं जो साइट की मुख्य सामग्री के साथ अतिरिक्त जानकारी प्रस्तुत करती हैं।

    Header

    Website का सबसे ऊपर का भाग Header होता है. किसी साइट का हेडर छोटा या बड़ा हो सकता है. जिसमे वेबसाइट लोगो, मेनूबार, बैनर का उपयोग किया जाता है.

    वेबसाइट के सबसे निचले हिससे को Footer कहते है. जिसमे Website नाम के साथ Copyright Icon का इस्तेमाल किया जाता है और Footer को हमेशा HTML या CSS में कोडित किया जाता है।

    Sitemap

    साइटमैप वेबसाइट पर प्रकाशित प्रत्येक पृष्ठ का एक Text Link मानचित्र है। Sitemap.xml File Automatically Generated होता हैं, और यह आमतौर पर Search Engine Website के लिए उपयोग किए जाते हैं।

    Akismet

    Akismet एक लोकप्रिय, मुफ्त वर्डप्रेस प्लगइन है जिसका उपयोग किसी साइट पर छोड़े गए स्पैम टिप्पणियों का पता लगाने और हटाने के लिए किया जाता है।

    AJAX

    तकनीकी शब्दों में, AJAX “एक जावास्क्रिप्ट-आधारित तकनीक है जो एक वेब पेज पर नई जानकारी प्राप्त करने के लिए Page को Refresh किए बिना नई इनफार्मेशन खुद को लोड करने की अनुमति देता है. इसका उदहारण Facebook है, Link को रिफ्रेश किये बिना नई Update Information आपको मिल जाता है.

    Apache एक ओपन सोर्स प्रोग्राम है जो दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला वेब सर्वर सॉफ्टवेयर है।

    .htaccess

    .htaccess फ़ाइल एक कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइल है जिसका उपयोग Apache चलाने वाले सर्वर द्वारा किया जाता है।

    File Transfer Protocol (FTP)

    File Transfer Protocol एक नेटवर्क पर कंप्यूटर के बीच फ़ाइलों को Transferring करने के लिए इस विधि को इस्तेमाल करते है।

    MySQL

    MySQL एक डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम है। यह आपकी वेबसाइट की सामग्री को स्टोर करने के लिए उपयोग करता है, जिसमें आपके व्यक्तिगत पोस्ट, पृष्ठ, मीडिया फाइलें और टिप्पणियां शामिल हैं।

    Search Engine Optimization (SEO)

    SEO के हिसाब से हमें वेबसाइट कंटेंट को बनाना चाहिए, जिससे Search Engine आपके वेबसाइट को Search Engine डेटाबेस में जोड़ कर वेबसाइट की रैंकिंग स्कोर बढ़ाया जा सकता है. Google, Bing, Yahoo एक Search Engine है. जब कोई वयक्ति Search Engine में सर्च करे तो आपका वेबसाइट सबसे पहले दिखे इसलिए, Search Engine Optimization Technic का इस्तेमाल करते हैं.

    Backlink किसी भी वेबसाइट के लिए बहुत ज्यादा महत्व पूर्ण है, मेरे अनुभव के अनुसार। किसी दूसरे वेबसाइट पर जाकर वहां Comment के दौरान आपको अपना नाम, ईमेल, Website Link भी देते है. जहा से आपको ट्रैफिक मिलता है.यह SEO प्रदर्शन में भूमिका निभाती है।

    Leave a Reply