in

Interesting facts and interesting things about google in Hindi.

लोगों का मानना है कि Google सब कुछ जानता है, लेकिन क्या आप Google के बारे में भी सब कुछ जानते हैं। यदि नहीं, तो इस पोस्ट पढ़ने के बाद Google के बारे में कुछ रोचक तथ्य और दिलचस्प बातें पता चल जाएगा।

Google की शुरुआत 1998 में हुई थी और आज यह हमारे दैनिक जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। हम हर दिन इसका इस्तेमाल करते हैं।

Google की स्थापना सितंबर 1998 में की गई थी। उस समय प्रति दिन 10,000 खोज हुआ करते थे।

एक साल बाद सितंबर 1999 में, Google खोज इंजन से खोज क्वेरी प्रतिदिन 3.5 मिलियन हो गई।

2000 के मध्य में, औसत दिन 18 मिलियन खोज तक पहुंच गया था।

अप्रैल 2007 में, दुनिया भर के उपयोगकर्ताओं ने प्रति दिन 200 मिलियन से अधिक Google से जानकारी खोजना शुरू कर दिया। यानी खोजों की संख्या में पाँच गुना वृद्धि हुई थी।

अगस्त 2012 में, Google के वरिष्ठ अमित सिंघल ने खुलासा किया कि Google के खोज इंजन को वेब पर 30 ट्रिलियन से अधिक URL मिले हैं।

जो प्रति दिन 20 बिलियन साइटों को क्रॉल करता है, और हर दिन 100 बिलियन खोजों को संसाधित करता है।

इंटरनेट से किसी भी प्रकार की जानकारी की आवश्यकता होती है, तो सबसे पहले Google का मदद लेते है।

Google की स्थापना 1998 में हुई थी और Google 27 सितंबर को अपना जन्मदिन मनाता है।

प्रारंभ में, Google के संस्थापक को HTML (हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) के बारे में अधिक जानकारी नहीं थी, जो वेब पेज बनाने और डिजाइन करने के लिए आवश्यक है। इसलिए Google का होमपेज बहुत सरल है।

अनुमान बताते हैं कि प्रति सेकंड लगभग 63,000 Google खोज हैं। जो कि प्रति मिनट 3.8 मिलियन और प्रति घंटे 228 मिलियन है।

वर्तमान अनुमानों के अनुसार प्रति वर्ष लगभग 2 ट्रिलियन Google खोजें हैं। यानी 2,000,000,000,000 सर्च किए जाते हैं!

1 सेकंड में 90,906GB इंटरनेट ट्रैफ़िक। 1 सेकंड में 82,152 Google खोज।

एक Google क्वेरी एक उत्तर प्राप्त करने के लिए 0.2 सेकंड में 1,000 कंप्यूटरों का उपयोग करती है।

Google के बारे में रोचक और दिलचस्प बातें Amazing facts about google
Amazing facts about google

1999 में, लगभग 50 मिलियन पृष्ठों के सूचकांक को क्रॉल करने में Google को एक महीने का समय लगा। लेकिन 2012 में, इसी कार्य एक मिनट से भी कम समय में पूरा किया गया था।

Google असल में Googol कि गलत स्पेलिंग है। Googol एक बहुत बड़ी संख्या है जिसमें 100 शून्य लगते हैं। Googol नाम का डोमेन पहले से ही बुक था, इसलिए डोमेन रजिस्टर करते समय इसका नाम Google रखा गया।

Google एक बड़े दिन या किसी विशेष व्यक्ति के जन्मदिन पर Google Doodle को अपने मुखपृष्ठ पर रखता है। उदाहरण के लिए, 2 अक्टूबर को, Google लोगों के स्थान पर गांधीजी की तस्वीर लगाई जाती है।

जीमेल का विचार राजन सेट द्वारा दिया गया था जब वह एक साक्षात्कार के लिए Google के पास गए।

जीमेल सेवा शुरू करने से पहले Google द्वारा पूरी तरह से परीक्षण करने के लिए इसे दो साल के लिए आंतरिक रूप से उपयोग किया गया था।

2004 में, Google ने अप्रैल फूल पर जीमेल लॉन्च किया।

Google पर एक बहुत बड़ी डूडल टीम काम करती है, जिसने अब तक एक हजार से अधिक डूडल पोस्ट किए हैं।

डूडल एक विशेष लोगो है जिसे किसी विशेष दिन या किसी बड़े व्यक्ति की स्मृति में Google पर रखा जाता है। जब दिवाली का त्योहार होता है, तो पटाखों के साथ डूडल दिखाया जाता है।

Google ने 2005 में एंड्रॉइड कंपनी को खरीदा। आज लगभग 80% स्मार्टफोन केवल एंड्रॉइड सिस्टम का उपयोग करते हैं।

2005 में ही गूगल ने गूगल मैप और गूगल अर्थ ऐप लॉन्च किया था।

Google ने 2006 में US $ 1.65 बिलियन में YouTube खरीदा।

Google का कार्यालय 200 बकरियों को रोजगार देता है। Google अपने कार्यालय के लॉन में घास काटने के लिए कटाई मशीन का उपयोग नहीं किये। निकलने वाला धुआं और शोर के कारण कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों को परेशानी होती । बकरियाँ घास की ट्रिमिंग के साथ अपना पेट भी भर लेती थी।

Leave a Reply