in

What is diesel generator In Hindi? भागों के नाम और उनके कार्य

आज की पोस्ट में, हम सीखेंगे कि What is diesel generator in hindi, यह कैसे काम करता है और इसके मुख्य भाग क्या हैं। आइये जानते हैं डीजल जनरेटर के बारे में विस्तार से।

What is diesel generator in hindi?

डीजल जनरेटर यानि DG का उपयोग उन जगहों पर किया जाता है जहां हमें बिजली नहीं मिलती है या थोड़े समय के लिए रहती है। इसका उपयोग आपात स्थिति में बिजली की जरूरतों के लिए भी किया जाता है। उदाहरण के लिए, यदि मोबाइल टॉवर को पावर ग्रिड से आपूर्ति मिल रही है और यह किसी कारण से डिस्कनेक्ट हो गया है, तो डीजल जनरेटर स्वचालित रूप से चलना शुरू कर देता है ताकि टॉवर पर कोई पावर इशू न हो और हमें निरंतर नेटवर्क मिल सके।

डीजल जनरेटर कैसे काम करता है? How does a diesel generator work?

डीजल जनरेटर एक डीजल इंजन और एक जनरेटर के संयोजन से बना एक उपकरण है। इसके अंदर एक डीजल इंजन है, जो डीजल को जलाता है और जलने से डायनेमो (अल्टरनेटर) को घूर्णी शक्ति प्रदान करता है। अब इस डायनेमो की घूर्णन शक्ति से हम किसी भी विद्युत उपकरण को चला सकते हैं।

डीजल जनरेटर का उपयोग कई स्थानों पर किया जाता है जैसे – कंपनी, निर्माण, अस्पताल, कार्यालय और घरों में।

डीजल जनरेटर के प्रकार Types of diesel generator

डीजल जनरेटर को उपयोग के आधार पर तीन भागों में विभाजित किया गया है।

  1. Portable Generator– यह पोर्टेबल जनरेटर मुख्य रूप से छोटे उपकरण चलाने के लिए उपयोग किया जाता है। यह जनरेटर हमें बिजली देने के लिए गैस और डीजल ईंधन का उपयोग करता है, इस पोर्टेबल जनरेटर का उपयोग केवल तब किया जाता है जब अस्थायी बिजली की आवश्यकता होती है।
  2. Inverter generator– यह जनरेटर बिजली का उत्पादन करने के लिए एक अल्टरनेटर की मदद का उपयोग करता है, जो एक डीजल इंजन से जुड़ा होता है। लेकिन इस इन्वर्टर जनरेटर में अंतर यह है कि यह तीन चरण से बिजली देता है। इन्वर्टर जनरेटर का उपयोग पहले AC सप्लाई फॉर्म में किया जाता है, फिर इसे DC करंट में बदल दिया जाता है और अंत में इस DC करंट को AC करंट में बदल दिया जाता है।
  3. Standby Generators– आप सभी ने अपनी कंपनी या अपने घर के आसपास किसी कार्यालय में स्थापित जेनरेटर देखे होंगे, ज्यादातर समय वे स्टैंडबाय जनरेटर होते हैं। इन जनरेटर का उपयोग आपातकालीन बिजली आपूर्ति के लिए किया जाता है। ये बहुत उच्च केवीए शक्ति के बाजार में उपलब्ध हो जाते हैं।
Yellow Color Diesel generator
डीजल जनरेटर क्या है, भागों के नाम और उनके कार्य

डीजल जेनरेटर पार्ट्स और उनके कामकाज Diesel Generator Parts and their Functioning

Engine– इसका कार्य यह है कि यह अल्टरनेटर को घूर्णन करने के लिए अल्टरनेटर को यांत्रिक शक्ति प्रदान करता है। और अल्टरनेटर को घूमने से बिजली उत्पन्न होता है।

Diesel tank– डीजल को स्टोर करने के लिए डीजल टैंक का उपयोग किया जाता है। एक डीजल टैंक ज्यादातर 500 से 1000 लीटर का होता है।

Primary lubricant oil pump– इस उपकरण का इस्तेमाल लुब्रिकेंट ऑयल को हर जगह पहुंचाने के लिए किया जाता है। ताकि मशीन के सभी हिस्से सुचारू रूप से काम कर सकें।

Lubricant oil filter- Lubricant oil का उपयोग घर्षण को कम करने के लिए किया जाता है। यदि Lubricant oil में कोई कचरा जमा हो जाता है, तो उसे हटाने के लिए Lubricant oil filte काम करता है।

Oil filter- कभी-कभी ऐसा होता है कि डीजल में थोड़ा अपशिष्ट होता है। इसका उपयोग उस कचरे को निकालने के लिए किया जाता है। यह उस कचरे को डीजल इंजन में प्रवेश करने से रोकता है।

Fuel Water Separators– कई बार डीजल जनरेटर खुले स्थानों में रखे जाते हैं। जब बारिश का मौसम आता है, तो ईंधन में पानी जाने का डर होता है। इसलिए, इस समस्या से बचने के लिए, ईंधन जल विभाजक का उपयोग होता है। इसका कार्य ईंधन से पानी को अलग करना है।

Air Filters– DG को चलाने के लिए हवा की आवश्यकता होती है। इस हवा के साथ धूल को आने से रोकने के लिए एयर फिल्टर का उपयोग किया जाता है।

Turbo Charger– टर्बो चार्जर का काम एयर फिल्टर होने के बाद इसे इंजन में प्रवेश कराना है। इसके साथ ही टर्बो चार्जर का काम इंजन में पैदा होने वाले कार्बन डाइऑक्साइड को इंजन से निकालना है।

Actuator– एक एक्ट्यूएटर की मदद से, हमें पता चलता है कि डीजल जनरेटर के इंजन में लोड के अनुसार कितना डीजल डालना है।

Coolant tank– इस टैंक का उपयोग आसुत जल/शीतलक को स्टोर करने के लिए किया जाता है। जब इंजन चल रहा होता है, तो lubricant oil गरम होता है। इस तेल को ठंडा करना बहुत महत्वपूर्ण है। इसे ठंडा करने के लिए आसुत जल का उपयोग किया जाता है।

Radiator and Fan- जब इंजन लंबे समय तक चलता है, तो इंजन के साथ आसुत जल भी गर्म हो जाता है। इसे ठंडा रखने के लिए पंखे और रेडिएटर का उपयोग किया जाता है।

Silencer– जब डीजल जनरेटर चलता है, तो यह बहुत शोर करता है। उस आवाज को कम करने के लिए साइलेंसर का उपयोग किया जाता है।

Alternator– अल्टरनेटर का उपयोग बिजली का उत्पादन करने के लिए किया जाता है। Coupling का उपयोग इंजन और अल्टरनेटर की जोड़ने के लिए किया जाता है। जब इंजन घूमता है, तो युग्मन के कारण अल्टरनेटर भी घूमता है।

Cranking Motor / Starter Motor / Battery– बैटरी डीजल जनरेटर के अंदर फिट होती है. जब डीजल जनरेटर स्टार्ट होता है, तो इसे गति देने के लिए एक क्रैंकिंग मोटर का उपयोग किया जाता है। डीजल जनरेटर शुरू होने के बाद, क्रैंकिंग मोटर अपने आप बंद हो जाती है।

Control panel– इसकी मदद से हम डीजल जनरेटर को चालू या बंद या स्वचालित रूप से चलाने के लिए सेट कर सकते हैं। इसके ऊपर एक डिस्प्ले भी है, जिसमें हम DG रीडिंग, आउटपुट वोल्टेज, फ्रीक्वेंसी, एम्पीयर आदि देख सकते हैं।

Automatic voltage regulator– इसका उपयोग DG के वोल्टेज को सही करने के लिए किया जाता है जब भी DG का वोल्टेज कम या ज्यादा होता है।

Circuit Breaker– यह सर्किट ब्रेकर हमारे उपकरणों को खराब होने से बचाता है अगर गलती से शॉट सर्किट या डीजल जनरेटर के अंदर किसी प्रकार की विद्युत गलती होती है।

Leave a Reply