in

What is TRP और टीआरपी का पता कैसे लगाया जाता है?

अगर आप जानना चाहते हैं कि What Is TRP और यह कैसे काम करता है। इस पोस्ट में हम TRP के बारे में विस्तार से जानेंगे, TRP क्या है। आप सभी ने कभी न कभी टीआरपी के बारे में जरूर सुना होगा। अब हम समझ सकते हैं कि किसी भी शो के लिए टीआरपी कितनी महत्वपूर्ण है। टीआरपी पूर्ण रूप क्या है, टीआरपी कैसे पता चलता है, टीआरपी कम होने से क्या फर्क पड़ता है, अधिक टीआरपी होने का क्या फायदा है?

    टीआरपी किसी भी शो के लिए बहुत महतव रखता है। अगर किसी शो को टीआरपी नहीं मिल रही है, तो शो के डायरेक्टर को भारी नुकसान उठाना पड़ता है और कुछ ही समय में शो को बंद करना पड़ता है।

    What is TRP?

    TRP- टेलीविज़न रेटिंग पॉइंट है। टीआरपी से पता चलता है कि किस चैनल और किस शो को सबसे ज्यादा देखा जा रहा है। सरल शब्दों में, टीआरपी हमें किसी भी चैनल या शो की लोकप्रियता का अंदाजा देती है। अगर किसी शो की टीआरपी कम है, तो इसका मतलब है कि लोग उसे ज्यादा पसंद नहीं कर रहे हैं, अगर किसी शो की टीआरपी ज्यादा है, तो इसका मतलब है कि लोग उस शो को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। टीआरपी barcindia की वेबसाइट पर बताई जाती है, न्यूज़ चैनल भी टीआरपी की जानकारी देते हैं।

    TRP का पता कैसे लगाया जाता है?

    TRP की गणना कैसे की जाती है या किस शो को कितनी TRP दी जा रही है कैसे जानी जाती है? हमारे पास भारत में दो एजेंसियां ​​हैं जो TRP का पता लगाती हैं, उनके नाम INTAM और DART हैं। INTAM का पूरा नाम इंडियन टेलीविज़न ऑडियंस मेजरमेंट है और DART का मतलब दूरदर्शन ऑडियंस रिसर्च टीम है। DART का उपयोग तब किया जाता था जब केवल दूरदर्शन मौजूद था।

    हालाँकि, DART अभी भी एक ग्रामीण स्थान की TRP खोजने के लिए उपयोग किया जाता है। DART एजेंसी TRP का पता लगाने के लिए अपने पसंदीदा शो और चैनल से संबंधित किसी भी ग्रामीण व्यक्ति से पूछताछ करती है। इसके अलावा, DART इलेक्ट्रॉनिक रूप से TRP का पता लगाता है।

    INTAM एक एजेंसी है जो TRP का पता लगाती है। टीआरपी का पता लगाने के लिए, पीपल मीटर नामक एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण स्थापित करते हैं। यह उपकरण डिवाइस टीवी सेट से जुड़ा है, जिसके बाद यह आपके टीवी पर दिखाई देने वाली सभी चीजों को रिकॉर्ड करता है और एक डेटा तैयार कर उस एजेंसी को भेजता है जो उनकी निगरानी करता है।

    क्या है TRP का महत्व

    किसी भी चैनल के लिए TRP का बहुत बड़ा योगदान है। टीआरपी के बिना कोई भी चैनल जीवित चल नहीं सकता क्योंकि टीआरपी ही एक ऐसी चीज है जो दर्शकों को चैनल से जोड़े रखती है, अगर दर्शक नहीं हो तो चैनल को बंद करना पड़ता है।

    आजकल सभी चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने के लिए रियलिटी शो ला रहे हैं, उदाहरण के लिए कपिल शर्मा शो, कौन बनेगा करोड़पति, बिग बॉस, इंडियन आइडल, खतरों के खिलाड़ी, डांस इंडिया डांस आदि टीवी चैनल। रियलिटी शो भी स्क्रिप्टेड होते हैं। हालांकि पूरी तरह से स्क्रिप्टेड नहीं है। टीआरपी न केवल चैनल के लिए बल्कि दर्शकों के लिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि जब कोई शो लोग देखना पसंद करते हैं और उनकी टीआरपी बढ़ती है। इसलिए चैनल अपने शो पर अधिक खर्च करते हैं और बेहतर कंटेंट बनाने की कोशिश करते हैं ताकि टीआरपी और भी अधिक बढ़ सके।

    TRP Se kaise कमाते हैं आय

    अभिनेता, अभिनेत्री, निर्देशक, निर्माता, संपादक और दूसरे लोगो क द्वारा शो को चलाया जाता है। और शूटिंग पर होने वाले खर्चे को इन्ही लोगो द्वारा मैनेज किया जाता है, जैसे- एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचने के लिए परिवहन और भोजन की लागत। और यदि शो/चैनल से इनकम नहीं हो तो बहुत नुकसान उठाना पता है।

      और इस खर्चे की भरपाई के लिए, चैनल विज्ञापन का सहारा लेते हैं। विज्ञापन इस शर्त पर भी उपलब्ध है कि चैनल की टीआरपी अच्छी होनी चाहिए। अगर टीआरपी कम हुई तो उसे विज्ञापन मिलेंगे लेकिन उन विज्ञापनों को दिखाने के लिए चैनल को बहुत कम पैसे मिलते हैं। इसलिए, अधिक टीआरपी का मतलब है अधिक विज्ञापन और अधिक आय।

      क्या TRP मायने रखती है?

      टीआरपी सीधे किसी भी चैनल / शो की आय को प्रभावित करती है। सभी चैनलों को पता है कि विज्ञापन से उनका राजस्व आता है। यदि आप आधे घंटे के लिए एक शो देखते हैं, तो इसमें एक विज्ञापन दो से तीन बार दिखाया जाता है और शो के निर्माता और चैनल कंपनी इस विज्ञापन से पैसे कमाते हैं। यदि किसी शो की उच्च TRP है, तो इसका मतलब है कि अधिक लोग इसे देख रहे हैं और कोई भी कंपनी चाहती है कि उनका विज्ञापन अधिक लोगों तक पहुंचे, इसलिए उच्च TRP वाले लोग विज्ञापन देने के लिए अधिक पैसे लेते हैं।

      दोस्तों, इस पोस्ट में TRP से जुड़ी सारी जानकारी आपको बताई गई- टीआरपी क्या है, टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स कैसे मिलते हैं, टीआरपी का क्या महत्व है, टीआरपी कैसे आय अर्जित करती है, क्या टीआरपी का फायदा होता है। और अब आप समझ गए होंगे कि TRP से किसी भी चैनल को क्या फायदा होता है। अगर आपको इस पोस्ट से कुछ नया सीखने को मिला है तो शेयर जरूर करें।

      Leave a Reply